List of Rivers in Madhya Pradesh hindi-मध्य प्रदेश की नदियों के नाम

madhya pradesh ki nadiyan in hindi

नमस्कार दोस्तों आपका हमारी वेबसाइट में स्वागत है| आज हमने इस post में  madhya pradesh ki pramukh nadiya in hindi के बारे में जानकारी वितरित की है| इसमें हमने  madhya pradesh ki nadiyan के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी साझा की है| यह जानकारी आपके ज्ञान को बढ़ाने तथा आने वाली परीक्षाओं की तैयारी के लिए सफलता का साधन हो सकता है| 

madhya pradesh ki pramukh nadiya in hindi

मध्य प्रदेश की नदियों को दो वर्गों में विभाजित किया जा सकता है| प्रथम वे जो केवल वर्षा ऋतु में पानी से भर जाती है परंतु अन्य मौसमों में सूखी पड़ी रहती है| और दूसरी वह नदियां हैं, जिनमें 12 महीने पानी रहता | मध्य प्रदेश में नदियां विभिन्न दिशाओं की ओर प्रवाहित होती है| उत्तर की ओर बहने वाली नदियां चंबल, बेतवा, सोन, केन आदि है तथा दक्षिण की ओर बहने वाली नदी वेनगंगा आदि है| पश्चिम की ओर बहने वाली नदियां नर्मदा व ताप्ती है| नदियों के अतिरिक्त अन्य बहुत सी छोटी-छोटी सहायक नदियाँ है| ये सभी नदियाँ प्रदेश के विभिन्न दिशाओं में प्रभावित होती है|

 

madhya pradesh all rivers in hindi

मध्य की सभी नदियाँ 

1. नर्मदा नदी 

नर्मदा नदी बहू मध्य प्रदेश की जीवन रेखा कहा जाता है| यह नदी मध्य प्रदेश के अनूपपुर जिले के मई का हल निकला कि अमरकंटक नामक पहाड़ी से निकलती है और एकदम गगरी एवं सीजी घाटी से होकर पश्चिम की ओर बहती है यह नदी मंडला, जबलपुर, नरसिहंपुर, होशंगाबाद,खंडवा तथा खरगैन और गुजरात के भरूच जिलों में बहती हुयी खम्भात की खाड़ी में गिरती है| यह नदी 1312 किमी लम्बी है| यह मध्य प्रदेश में 1077 किमी बहती है| इसका अपवाह क्षेत्र 93180 वर्ग कि.मी. है

 

ताप्ति नदी की उत्पति संस्कृत केपातशब्द से हुयी है| तापी या ताप्ति नदी के मध्य के बैतूल जिलें में मुलताई (मूल ताप्ति) नगर के पास से सतपुड़ा के दक्षिण में 762 मीटर की ऊँचाई से निकलती है| यह नदी पूर्व से पश्चिम नर्मदा के समान्तर बहने के पश्चात खम्भात की खाड़ी में गित्री गिरती है| इसकी लम्बाई 724 किमी है| पूर्वा, गिरना, बोरी, पान्छरा, बाघुड और शिवा ताप्ति की अन्य सहायक नदियाँ है
2
. ताप्ति नदी 

 

3. चम्बल नदी 

प्राचीन काल में चर्मणवती के नाम से जाने जाने वाली नदी वर्तमान में चंबल नदी के नाम से विख्यात है| इसकी कुल लंबाई 9651 किलोमीटर है| यह नदी इंदौर जिले के महू तहसील के समीप स्थित जानापाव नामक पहाड़ी से निकलकर उत्तर पूर्व की ओर मध्य प्रदेश धार, उज्जैन, रतलाम, मंदसौर जिले में बहती हुई राजस्थान में बूंदी, कोटा और धौलपुर में बहती है|फिर पूर्वी भाग में बहती हुयी इटावा(उतर-प्रदेश) से 38 किलोमीटर दूर यमुना नदी में मिलती है

 

4. बेतवा नदी

बेतवा नदी मध्य प्रदेश के रायसेन जिले के कुमरा नामक गाँव से निकलती है| इसका प्राचीन नाम वेत्रवती नदी है| बेतवा नदी मध्य प्रदेश एवं उतर प्रदेश में विचरण करने के पश्चात उतर के हमीरपुर जनपद स्थित यमुना नदी में मिल जाती है| इसका भाव उतर की ओर है| इस नदी की सम्पूर्ण लम्बाई 380 किमी है|

 

हिमाचल प्रदेश के झीलों की सूची- list of lakes of himachal pradesh-हिमाचल प्रदेश की 7 सुंदर झीलें-हिमाचल की प्राकृतिक झीलें – Natural lake

5. सोन नदी

यह नदी विंध्यांचल पर्वत की अमरकंटक की पहाड़ियों से पेंड्रा रेलवे स्टेशन से लगभग 19 किमी लम्बी है| सोन नदी मध्य प्रदेश, उतर प्रदेश और बिहार में बहती हुयी पटना के समीप दानापुर के पास गंगा नदी में मिल जाती है| इसकी सहायक नदी उतरी कोयल है|

 

6. क्षिप्रा नदी 

क्षिप्रा नदी मध्य प्रदेश के इंदौर जिले के समीप काकरी बरडी नामक पहाड़ी से निकलती है| यह नदी 195 किलोमीटर लंबी तथा यह 93 किलोमीटर तक मध्य प्रदेश के उज्जैन जिले में प्रवाहित होती है| पुन: रतलाम और मंदसौर जिले में बहती हुई यह चंबल नदी में मिल जाती है| खान और गम्भीर इसकी सहायक नदीयां है|

 

7. केन नदी

केन नदी मध्य प्रदेश के जबलपुर जिले की कटनी नामक तहसील से निकलती है|यह उतर प्रदेश में बांदा जिले की सीमा में 160 किमी बहने के बाद यमुना नदी में मिल जाती है|

 

8. टोंस नदी

टोंस नदी के मध्य के सतना जिला की मैहर तहसील के कैमूर की पहाड़ियों से निकलती है| यह उतर प्रदेश में इलहाबाद में सिरसा नामक स्थान के पास गंगा नदी में मिल जाती है| वेलन इसकी सहायक नदी है|

 9. काली सिंध नदी

काली सिंध देवास के समीप बागली नामक गाँव से निकलकर चम्बल नदी में मिल जाती है|

 10. वेनगंगा नदी

वेनगंगा मध्य प्रदेश के सिवनी जिले के परसबाड़ा पठार से निकलर सिवनी-छिंदबाड़ा के मध्य प्रवाहित वर्धा नदी एवं वेनगंगा का संगम स्थल ‘प्राणहिता’ के नाम से जाना जाता है|

 11. तवा नदी

यह नदी पंचमढ़ी के पास महादेव पर्वत की पहाड़ियाँ से निकलकर उतर की ओर बहती है| यह होशंगाबाद की प्रमुख नदी है| इसकी सहायक देनवा नदी पंचमढ़ी के पठार से निकलती है| इसकी अन्य सहायक नदियाँ में मालिनी और सुखतवा है|

 12. पार्वती नदी

यह नदी विंध्यांचल श्रेणी के उतरी ढाल से निकलती है| मध्य भारत के पठार पर यह नदी केवल चचौडा तथा गुना तहसीलों की सीमा पर 37 किमी बहती है और अंत में चम्बल नदी में मिल जाती है|

 13. शक्कर नदी

यह नदी नर्मदा की सहायक नदी है, जो इसमें बायीं ओर से मिलती है| इस नदी का उद्गम छिंदवाडा जिले के अमरवाड़ा से 18 किमी उतर में है|

 gk 2021 gk questions 2021 in Hindi-General Knowledge Questions & Answers in Hindi 2021-Gk in Hindi – सामान्य ज्ञान Gk Questions

14. कुवारी नदी

यह नदी शिवपूरी पठार से निकलती है| सिंध की सहायक यह नदी मुरैना पठार के जल विभाजक द्वारा कुनू तथा चम्बल से अलग होकर पूर्व को ओर चम्बल के समानंतर प्रवाहित होती है, तथा भिंड जनपद की लहार तहसील में सिंध नदी में विलीन हो जाती है|

 

15. छोटी तवा नदी

बैतूल जिलें में छोटी तवा वृक्षाम अपवाह क्रम वाली है| यह आवना-सूक्त नदियों से मिलकर बनी है| सुक्ता खानदेश से बुरहानपुर में प्रवेश कर खंडवा के उतर में आवना से मिल जाती है|

 

16. वर्धा नदी

यह नदी मुलताई के उतर-पूर्व में वर्धन शिखर (811 मीटर) से निकलकर महाराष्ट्र में वेनगंगा से मिल जाती है| गहरे चट्टानें क्षेत्र में यह तीव्र प्रवाह नदी है|

 

17. कुनू नदी

इसका उद्भव शिवपूरी पठार से है| उद्गम के बाद यह संकरी व् गहरी घाटी में बहती है तथा अपने मार्ग के अवरोधक मुरैना पठार को सफलतापूर्वक पार करती हुयी चम्बल नदी से मिल जाती है| इस नदी की कुल लम्बाई 180 किमी है|

 

18. गार नदी

यह नदी नर्मदा की सहायक नदी है| यह सिवनी के लखना क्षेत्र से निकलर कोयले की संकरी घाटी में से बहती हुयी उतर की ओर जाकर नर्मदा के बायें तट से मिल जाती है|

 19. सिंध नदी

यह गुना जिलें सिरोज के निकट से निकलती है| गुना, शिवपुरी, दतिया और भिंड में बहती हुई यह इटाव जिले (उतर प्रदेश) के पास चम्बल नदी से मिल जाती है|

 

20. कान्हान नदी

275 किमी सतपुड़ा पर्वत श्रेणी के छिंदबाड़ा से निकलती है| यह वेनगंगा की सहयक नदी है|

 

21. जोहिल्ला नदी

यह अमरकंटक के दक्षिण पश्चिमी छोर से निकलती है| यह सोन की सहायक नदी है|


22. पेंच नदी

यह छिंदवाडा जिले के जुन्नारदेव नामक स्थान से निकलती है| यह कान्हा नदी की सहायक नदी है|

 

मध्य प्रदेश के प्रमुख जलप्रपात

Major waterfall of Madhya Pradesh in hindi 


क्रं.सं.

जलप्रपात 

नदी 

1

कपिलधारा जलप्रपात 

नर्मदा नदी ( अनूपपुर) 

2

दुग्धधारा जलप्रपात 

नर्मदा नदी (अनूपपुर)

3

धुआंधार जलप्रपात 

नर्मदा नदी (जबलपुर) भेड़ाघाट 

4

मांधर जलप्रपात 

नर्मदा नदी (हंडिया – बडवाह के मध्य)

5

दरदी जलप्रपात 

नर्मदा नदी (हंडिया – बडवाह के मध्य)

6

सहस्त्रधारा जलप्रपात 

नर्मदा नदी (महेश्वर)

7

चचाई जलप्रपात 

बीहर नदी (रीवा)

8

चुलिया जलप्रपात 

चम्बल नदी (मंदसौर)

9

राहतगढ़ जलप्रपात 

चम्बल नदी (सागर)

10

झाड़ी दाहा जलप्रपात 

चम्बल नदी (इंदौर के निकट)

11

पाताल पानी जलप्रपात,

बहूटी जलप्रपात  

चम्बल नदी (इंदौर), बीहर (रीवा)

 

 

मध्य प्रदेश की नदियों के किनारे बसे प्रमुख नगर 

 

क्रं.सं.

नदियाँ 

उन पर बसे नगर

1

नर्मदा 

अमरकंटक 

2

नर्मदा 

होशंगाबाद 

3

नर्मदा 

जबलपुर 

4

नर्मदा 

नरसिहंपुर 

5

नर्मदा 

निमाड़ 

6

नर्मदा 

पुनासा 

7

नर्मदा 

महेश्वर 

8

माही

कुक्षी 

9

चम्बल 

श्योपुर 

10

ताप्ति 

मुलताई 

11

पार्वती 

शाजापुर 

12

सिंध 

शिवपुरी 

13

क्षिप्रा 

उज्जैन 

14

खान 

इंदौर 

15

नर्मदा

हण्डिया 

 

 मध्य प्रदेश की नदियों का प्रवाह
 rivers of madhya pradesh in hindi


क्रं.सं.

नदी

लम्बाई

उदगम स्थल

सहायक नदियाँ

संगम स्थल

1

नर्मदा

1312 कि.मी. (मध्य प्रदेश में 1077 कि.मी.)

अमरकंटक (अनूपपुर)

तवा, शेर, शक्कर, मान, हिरन, तिन्दोली, बनास, चन्द्रशेखर, कानर, बरना|

गुजरात में खम्भात की खाड़ी (अरब सागर में)

2

चम्बल

965 कि.मी.

महू (इंदौर) के निकट जनापाव पहाड़ी से

काली सिंध, पार्वती, बनास|

इटावा (उतर प्रदेश में यमुना नदी में)

 

3

ताप्ति

724 कि.मी.

बैतूल जिले के मुलताई के निकट

पुरणा

खम्भात की खाड़ी में (अरब सागर में)

4 

सोन

780 कि.मी.

अमरकंटक (अनूपपुर)

जोहिल्ला

पटना के पास गंगा में

5

बेतवा

380 कि.मी.

कुमरा गाँव (रायसेन)

बौना, धसान, सिंध

हमीरपुर में यमुना नदी में

6

तवा

पचमढ़ी (महादेव पर्वत, सुखतवा, कालिभित)

देनवा, मालिनी

नर्मदा नदी में

7

क्षिप्रा

195 कि.मी.

काकरी बरडी (इंदौर)

खान नदी

चम्बल नदी में

8

वेनगंगा

570 कि.मी.

पासवड़ा पठार (सिवनी)

कानन, पेंच, बाघ, गुर्बे, पर्वा, सनार|

चम्बल नदी में

9

केन

292 कि.मी. (मध्य प्रदेश) 

विंध्यांचल पर्वत

गुर्बे, पर्वा, सनार|

यमुना में

10

सिंध

सिरोज (गुना) 

उतर प्रदेश में चम्बल नदी में

11

काली सिंध

150 कि.मी.

बागली गाँव (देवास) 

राजस्थान में, चम्बल नदी में

12

गार

लखना (सिवनी) 

13

छोटी तवा

बैतूल

आवना खंडवा में

14

शक्कर

अमरवाड़ा (छिंदबाड़ा)

नर्मदा नदी में

15 

वर्धा

वर्धन-शिखर (बैतूल)

आवना खंडवा में

16

कुवारी

शिवपूरी पठार

चम्बल में

17

पार्वती

सीहोर जिला

चम्बल में

18

कुनू

180 कि.मी.

शिवपुरी पठार

चम्बल में

19

धसान

240 कि.मी.

रायसेन

अर एवं केथन

बेतवा में

20

टोंस/तमसा

320 कि.मी.

कैमूर पहाड़ी (सतना)

गंगा नदी में

21 

माही

583 कि.मी.

धार जिले के सरदारपुर

उजास

खम्भात की खाड़ी में

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

study4upoint

Hello दोस्तों मेरा नाम तापेंदर ठाकुर है। मैं हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय से स्नातक Post Graduate हूँ। मैं एक ब्लॉगर और यूट्यूबर हूँ। इस वेबसाइट के माध्यम से आपको प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने में सहायता मिलेगी | आप सबका मेरी वेबसाइट में आने का बहुत धन्यवाद।

Leave a Reply

Your email address will not be published.