Indian Geography GK in hindi | India Geography | भारत का भूगोल प्रश्नोत्तरी

Table of Contents

Indian Geography GK in hindi

दोस्तों आपका हमारी वेबसाईट में स्वागत है| आज हमें इस लेख  Indian Geography GK in hindi  में India Geography से सम्बन्धित प्रश्नों की जानकारी दी है| यह प्रश्न पिछले कई Exmas में बहुत बार पूछे गये है| आगर आप कोई भी Exam देने चाहते हो तो ये प्रश्न  Indian Geography GK in hindi  आपकी काफी Help करने वाले है| अगर आपको यह  Indian Geography GK in hindi प्रश्न अच्छे लग रहे हो तो इस लेख को ज्यादा से ज्यादा से शेयर करें|

Indian Geography GK in hindi
Indian Geography GK in hindi

1.ज्वालामुखी के कप के आकार के मुख को क्या कहते है?

A.उद्गम केंद्र
B.अधिकेंद्र
C.क्रेटर
D.सिंडर शंकु

C-क्रेटर- ज्वालामुखी के छिद्र के ऊपर गर्त की क्रेटर या ज्वालामुखी का मुख कहते है| प्राय: क्रेटर किपाकार होते है, जिनका ढाल शंकु पर आधारित होता है, जिसमें उनका निर्माण होता है|

2.ज्वालामुखी के कप या कटोरा आकार मुख क्या कहते है?

A.सिन्डर द्वार
B.उद्गम केंद्र
C.अधिकेंद्र
D.क्रेटर

D-क्रेटर-प्राय: क्रेटर किपाकार होते है, जिनका ढाल शंकु पर आधारित होता है, जिसमें उनका निर्माण होता है|

3.भूकंप की तीव्रता मापने वाले यंत्र को कहते है-

A.इडियोग्राफ
B.पैंटाग्राफ
C.अर्गोग्राफ
D.सिस्मोग्राफ

D-सिस्मोग्राफ-भूकंप मूल के ठीक ऊपर धरातल पर भूकंप का वह केंद्र होता है, जहाँ पर भूकंपीय लहरों का ज्ञान सर्वप्रथम होता है इसे ‘भूकंप केंद्र’ अथवा ‘अधिकेंद्र’ कहते है| अधिकेंद्र पर लगे यंत्र द्वारा भूकंपीय लहरों का अंकन किया जाता है| इस यंत्र को ‘भूकंप लेखन यंत्र’ अथवा ‘सिस्मोग्राफ’ कहते है| सिस्मोग्राफ की सहायता से भूकंपीय लहरों की गति तथा उनकी, उत्पति स्थान एवं प्रभावित क्षेत्रों के विषय में जानकारी प्राप्त होती है| सिस्मोग्रफ से प्राप्त आंकड़ों को रिक्टर पैमाने पर मापा जाता है|

4.भूकंप केंद्र के ठीक निचे के बिंदु को क्या कहते है?

A.विदर
B.भूकंप मूल
C.अधिकेंद्र
D.ऑर्थो सेंटर

B-भूकंप मूल-भूकंप केंद्र को भूकंप अधिकेंद्र भी कहते है| इसके निचे बिंदु को भूकंप या हाईपो सेंटर कहते है| अधिकेंद्रम भूकंप मूल के 90 डिग्री कोण पर होता है| जिस जगह से भूकंप का कंपन का प्रारम्भ होता है| उसे ‘भूकंप मूल’ कहते है| तथा जहाँ पर भूकंपीय लहरों का अनुभव सबसे पहले किया जाता है| उसे ‘भूकंप केंद्र’ कहते है|

5.पृथ्वी सतह भूकंप के केंद्र के ठीक उपर के बिंदु को क्या कहते है?

A.मध्य केंद्र
B.मूल केंद्र
C.उत्केन्द्र
D.अत: केंद्र

C-उत्केन्द्र-पृथ्वी की सतह पर भूकंप के केंद्र के ठीक उपर के बिंदु को भूकंप केंद्र या उत्केन्द्र कहते है| जिस जगह से भूकंप का कंपन होता है| इसे भूकंपमूल कहते है| भूकंप के दौरान कई प्रकार की भूकंपीय तरंगे उत्पन्न होती है| जिन्हें तीन श्रेणियों में रखा जाता है| प्राथमिक तरंग(P तरंग), अनुप्रस्थ या गौण तरंग(S तरंग) और धरातलीय तरंग(L तरंग)|

6.रिक्टर स्केल का प्रयोग किसके मापने के लिए किया जाता है?

A.वायु की आर्द्रता
B.वायु का वेग
C.भूकंप की तीव्रता
D.तरल के घनत्व

C-भूकंप की तीव्रता- रिक्टर स्केल का प्रयोग भूकंप की तीव्रता मापने के लिए किया जाता है| इसका विकास वर्ष 1930 में किया गया था| रिक्टर स्केल में प्रत्येक आगे की संख्या अपने ठीक पीछे वाली संख्या से 10 गुने परिणाम को बताती है|

7.नापे किसका एक प्रकार है?

A.नदीय लक्ष्ण
B.वलित सरंचना
C.अपरदन मैदान
D.डेल्टा प्रदेश

B-वलित सरंचना- नापे भूगर्भिक हलचल से उत्पन्न वलित सरंचना का एक प्रकार है|

8.एक ही समय में कंपन करने वाले स्थानों की जोड़ने वाली रेखाओं की श्रृंखला कहलाती है-

A.सहभूकंपन रेखाएं
B.समभूकंप रेखाएं
C.सहभूकंप रेखाएं
D.भूकंपन रेखाएं

C-सहभूकंप रेखाएं-सहभूकंप रेखाएं वे रेखाएं है, जो एक ही समय में कंपन करने वाले समान स्थानों को जोडती है|

9.विभ्रंश घाटी बनती है-

A.दो एंटि क्लाइंज के बीच
B.दो भ्रंशों के बीच
C.अभिनत द्रोणी का कटाव
D.ज्वालामुखिय उदभेदन के कारण

B-दो भ्रंशों के बीच- विभ्रंश या रिफ्ट घाटी एक स्थलरूप है| जिसका निर्माण विवर्तनिक हलचल के परिणामस्वरूप होने भ्रंशन के कारण होता है| ये सामान्यत: पर्वत श्रेणियों अथवा उच्चभूमियों के बीच स्थित लंबी आकृति वाली घाटियाँ होती है| जिनमें अक्सर झीलें भी निर्मित हो जाती है|

10.11 मार्च, 2011 की जापान में आए जोरदार भूकंप एवं सुनामी द्वारा जिन न्युकिल रिएक्टरों की भारी क्षति के फलस्वरूप विकिरण का रिसाव हुआ वे थे-

A.पुकुशिमा
B.क्योतो में
C.टोक्यों में
D.उपर्युक्त किसनी में भी नहीं

A-पुकुशिमा -1 मार्च, 2011 को जापान में आए विनाशकारी भूकंप और प्रलयकारी सुनामी से क्षतिग्रस्त पुकुशिमा न्यूक्लियर रिएक्टरों में भारी विकिरण का रिसाव हुआ था|

study4upoint

Hello दोस्तों मेरा नाम तापेंदर ठाकुर है। मैं हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय से स्नातक Post Graduate हूँ। मैं एक ब्लॉगर और यूट्यूबर हूँ। इस वेबसाइट के माध्यम से आपको प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने में सहायता मिलेगी | आप सबका मेरी वेबसाइट में आने का बहुत धन्यवाद।

Leave a Reply

Your email address will not be published.