November 30, 2022

coronavirus vaccine progress hindi me-हिमाचल प्रदेश current news हिंदी में

ई-मित्र सेवा शुरू करेंगे हिमाचल प्रदेश के सीएम जयराम ठाकुर

हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्रीजयराम ठाकुर 6 जनवरी को अपने जन्मदिवस पर विधायक ई-मित्र सेवा शुरू करेंगे| यह सुविधा सरकार की और से चलाई जा रही शिखर की ओर हिमाचल मोबाईल एप के माध्यम से दी जाएगी| इस एप में एम् एल ए कॉर्नर नाम से विधायकों को एक अतिरिक्त टैब में विधायक ई-मित्र सुविधा मिलेगी|

विधायक ई-मित्र सेवा शुरू होने से विधायक ऑनलाईन अपने कार्य को फ़ॉलो करते सकेंगे| वर्तमान समय के अनुसार विधानसभा क्षेत्र की जनता अपने प्रतिनिधियों के समक्ष मागें रखती है| विधयक उन्हें मुख्यमंत्री के समक्ष रखते है| इसके बाद उन प्रस्तावों को अन्य कार्यलय से सम्पर्क करने में अधिक समय लगता है| सरकार द्वारा यह निर्देश दिए गये थे की ऐसी तकनीक विकसित की जाए जिससे विधायकों को अपने प्रस्तावों को लेकर हो रही प्रगति की जानकारी प्राप्त करने के लिए विभिन्न कार्यलयों के चक्कर न काटने पड़ें|

 

कोविशिल्ड व कोवाक्सिन टीकों पर अंतिम मुहर

भारत सरकार के अनुसार 110 फीसदी सुरक्षित, दुनिया के सबसे बड़े टिकाकरण अभियान की राह साफ़

कोरोनावायरस के खिलाफ देश में सीमित आपात इस्तेमाल के लिए तो टीकों कोविडशील्ड और कोवावैक्सिन  को रविवार को दी मंजूरी मिल गयी| भारतीय औषधि महानियंत्रक नियमों को हरी झंडी दिखाते हुए कहा कि 110 फ़ीसदी सुरक्षित हैइस फैसले से जल्द ही देश में दुनिया के सबसे बड़े टीकाकरण अभियान की राह साफ हो गई है| डॉ विजी सोमानी के अनुसार सुरक्षा सबंधी थोडा भी संदेह होता तो हम कभी भी इसे मंजूर नही करते| जांच की बाद ही केन्द्रीय औषधि मानकनियत्रण संगठन ने कोरोना टीकों पर बनी विशेषज्ञ समिति की सिफारिशों पर अपनी सहमती दी थी| हल्का बुखार, दर्द और एलर्जी जैसे कुछ दुष्प्रभाव हर टिके के लिए आम बात है| उनके अनुसार कोविशील्ड के अब तक सामने आये परिणामों के अनुसार टिका 70.42 फीसदी तक असरदार पाया है|

बता दें की कोविशिल्ड को ऑक्सफोर्ड एस्ट्राजेनेका और पुणे के सीरम इन्सीटीटयूट ओद इण्डिया द्वारा विकसित किया गया है| वहीं कोवाक्सिन भारत बायोटेक द्वारा भारतीय चिकित्सा अनुसन्धान परिषद के सहयोग से विकसित किया जा रहा स्वदेशी टिका है| केंद्र सरकार ने 6 से 8 महीनों ने टिकाकरण अभियान पहले चरण में करीब 30 करोड़ लोगों की टिका देने की योजना बनाई है|

 

 

कोरोना टिका लगाने से पहले जान ले हर चरण

कोरोनावायरस के टिके को भारत सरकार से मंजूरी मिल गई है| कुछ ही दिनों बाद राजधानी में टीका लगना शुरू हो जाएगा लेकिन इससे पहले इसके बारे में जानकारी जानना जरूरी है जोधा की पूरी प्रक्रिया से आपको पहले भी अवगत करा देगा|

 

ऐसे होगा पंजीयन

अगर आप  हार्ट, किडनी, कैंसर मधुमेह या किसी अन्य बीमारी से ग्रस्त है या फिर आपकी आयु 50 से अधिक की है तो सबसे पहले कोविन  वेबसाइट पर जाकर पंजीयन करना होगा |इस दौरान पता फोन नंबर इत्यादि भरना होगा ओटीपी आधारित इस सेवा में आपका फोन सर्वर से लिंक होगा

 

पंजीयन होने की बाद फोन पर एक मैसेज मिलेगा जोकि पंजीयन की पुष्टि करेगा| इसके बाद आपका आवेदन जिला प्रशासन की टीम के पास जाएगा

 

ऑनलाईन ही समीक्षा की जाएगी और उसके बाद टीम की ओर से आपको एक मैसेज मिलेगा जिसमे टिका कब, कहाँ और कितने बजे लगना है? इसकी जानकारी मिलेगी

 

टिकाकरण लगने की प्रक्रिया

सूची मिलने के बाद इंतजार कक्ष में बैठने के लिए कहा जाएगा | यहाँ से आप टीका कक्ष में जायेंगे जहाँ मौजूद डॉक्टरों की टीम आपको टिका लगाएगी

 

टीका कक्ष में आपका वजन, लबाई इत्यादि की जांच हो सकती है| टिका लगाने के बाद निगरानी कक्ष में आधा घंटे तक रहना होगा

 

दिक्कत होती है तो तत्काल आपको नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र शिप्ट किया जाएगा| अगर नही होती तो आप घर जा सकते हो

 

अगला चरण 

पहली डोज लगने के बाद आपको मैसेज आएगा| इस मैसेज में आपको अगली डोज कब और कहाँ लगनी है| यह जानकारी दी जायेगी

तय समय पर दूसरी डोज लेने के बाद जब आप टीका बूथ पर पहुंचेगें तो पहले की भांति पूरी प्रक्रिया का पालन करना होगा

दो डोज लगने के बाद जब तक आप घर पहुंचेगें तो आपके फोन पर एक लिंक दिया जाएगा| इसके आप फोटो युक्त सर्टिफिकेट हासिल कर सकते हो

 

 

 

study4upoint

Hello दोस्तों मेरा नाम तापेंदर ठाकुर है। मैं हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय से Post Graduate हूँ। मैं एक ब्लॉगर और यूट्यूबर हूँ। इस वेबसाइट के माध्यम से आपको प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने में सहायता मिलेगी | आप सबका मेरी वेबसाइट में आने का बहुत धन्यवाद।

View all posts by study4upoint →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *